श्री महालक्ष्मी जगदम्बा संस्थान

मंदिर

भारत अपने अध्यात्मिक ज्ञान के कारण विश्वगुरुपदपे विराजमान हैं। भारत में सर्वदूर प्राचीन,भव्य एवं पवित्र मंदिर हैं। माँ जगदम्बा के ५१ शक्तीपीठ प्रसिद्ध हैं। कोराडी का श्री महालक्ष्मी जगदम्बा मंदिर उनमें से एक है। यह बहुत पुरातन व ऎतिहासिक मंदिर है। प्रतीवर्ष लाखों भक्तगण दर्शनार्थीयों के रुप में यहाँ आते हैं। श्री महालक्ष्मी ’जाखापूरवासिनी’ नामसे भी जानी जाती हैं। जाखापुर यह कोराडी परिसर का ऐतिहासिक नाम है| श्रीमहालक्ष्मी जगदम्बा का मंदिर नागपुर से १५ कि. मी., उत्तर की ओर, कोराडी तालाब के किनारे स्थित है| भक्तों की श्रद्धा,विश्वास एवं प्रत्यक्ष अनुभव की अनेक कथाएँ प्रसिद्ध हैं| माँ जगदम्बा भक्तों के हृदय में निवास करती हैं एवं उनकी कृपा से जीवन के अनेकविध् क्षेत्रों में यशप्राप्ति होती है ऐसी भक्तों की श्रद्धा है|

©2018 सभी अधिकार सुरक्षित -श्री महालक्ष्मी जगदंबा संस्थान, कोराडी।